chessbase india logo

The most important chess softwares

Get yourself the most important chess softwares that every chess professional uses. Right from Magnus Carlsen, Vishy Anand, and every strong chess player - ChessBase 15 + Mega Database 2020 is a must. Get your product from the ChessBase India Online shop.

हर दिन ट्रेनिंग चेसबेस अकाउंट के साथ

22/09/2020 -

शतरंज मे हर खिलाड़ी को प्रतिदिन एक खास तैयारी की जरूरत होती है और इसे करने का तरीका भी बहुत खास होना जरूरी है । तो कैसे करे शतरंज ट्रेनिंग ? कौन होगा आपका ट्रेनिंग साथी ? इन सभी सवालों के जबाब के साथ हिन्दी चेसबेस इंडिया यूट्यूब पर हर दिन हो रहा है ट्रेनिंग विडियो फीडे इंस्ट्रक्टर निकलेश जैन के साथ । जिसमें आपका ट्रेनिंग साथी बनता है चेसबेस अकाउंट जिसकी मदद से हम करते है हर दिन प्रशिक्षण ,आप इस विडियो के सीधे प्रसारण से जुड़ कर अपने सवालों के जबाब भी जान सकते है और अपना खुद का ट्रेनिंग कार्यक्रम भी तैयार कर सकते है तो जुड़े रोज इस सीधे प्रसारण से हिन्दी चेसबेस इंडिया यूट्यूब चैनल से । पढे यह लेख

सेंट लुईस रैपिड & ब्लिट्ज़ : कार्लसन - सो सयुंक्त विजेता

20/09/2020 -

सेंट लुईस रैपिड और ब्लिट्ज़ शतरंज का समापन कल रात को अंतिम 9 ब्लिट्ज़ मुकाबलों के साथ हो गया और नॉर्वे के विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन और अमेरिका के वेसली सो नें सयुंक्त रूप से यह खिताब अपने नाम कर लिया दोनों खिलाड़ी रैपिड और ब्लिट्ज़ मे कुल मिलाकर 24 अंक बनाने मे कामयाब रहे और सेंट लुईस क्लब के नियमानुसार दोनों को सयुंक्त विजेता घोषित करते हुए पूरुष्कार राशि को बराबर बराबर दोनों मे बाँट दिया गया । खैर भारत के पेंटाला हरिकृष्णा दूसरे दिन कुछ खास कमाल नहीं दिखा सके और सातवे स्थान पर रहे पर उनके खिलाफ रूस के नेपोंनियची की खेल भावना नें सभी का ध्यान आकर्षित किया । एक बार फिर रात्री 11.30 बजे से 2 बजे तक इस टूर्नामेंट का सीधा विश्लेषण हिन्दी चेसबेस इंडिया यूट्यूब चैनल पर किया गया । पढे यह लेख 

सेंट लुईस ब्लिट्ज - हरिकृष्णा की कार्लसन पर शानदार जीत

19/09/2020 -

कभी कभी आपका एक मुक़ाबला आपके पूरे टूर्नामेंट को सफल बना देता है और ऐसा ही कुछ हुआ कल भारत के नंबर 2 क्लासिकल शतरंज खिलाड़ी ग्रांड मास्टर पेंटाला हरिकृष्णा के साथ जिन्होने सेंट लुईस चैंपियनशिप के ब्लिट्ज मुकाबलों मे विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन पर अपने खेल जीवन की पहली जीत दर्ज की । यह जीत और खास तब बन गयी जब उन्होने यह जीत एक बेहतरीन खेल और खासतौर पर एंडगेम मे हासिल की । वैसे हरि ब्लिट्ज शतरंज के लिए ज्यादा जाने नहीं जाते है और इस टूर्नामेंट मे 9 राउंड मे अब तक 2 जीत और 3 ड्रॉ हासिल कर पाये पर मेगनस कार्लसन के उपर मिली उस जीत नें उनके लिए इस टूर्नामेंट को सार्थक बना दिया है । लगातार चौंथे दिन रात को 11.30 से 2 बजे तक इस टूर्नामेंट का सीधा प्रसारण चेसबेस इंडिया हिन्दी यूट्यूब चैनल पर किया गया । पढे यह लेख । 

सेंट लुईस रैपिड :अंतिम समय मे वेसली सो नें मारी बाजी

18/09/2020 -

सेंट लुईस रैपिड शतरंज का आखिरी दिन और आखिरी राउंड नाटकीयता से भरपूर रहा और मेगनस कार्लसन एक और खिताब हासिल करने के बेहद नजदीक पहुँचने के बाद भी खिताब हासिल करने मे असफल रहे और अंतिम राउंड मे भारत के पेंटाला हरिकृष्णा को पराजित करते हुए अमेरिका के वेसली सो नें कार्लसन को पीछे छोड़ते हुए खिताब हासिल कर लिया । हालांकि इस जीत मे अंतिम राउंड मे रूस के अलेक्ज़ेंडर ग्रीसचुक के खिलाफ कार्लसन का अधिक खतरा उठाना भी एक कारण रहा । भारत के पेंटाला हरिकृष्णा नें आखिरी दिन जेफ्री जियांग पर शानदार जीत हासिल की और वह टूर्नामेंट मे वह पांचवे स्थान पर रहे । एक बार फिर इस मुक़ाबले मे रात को 11.30 से 1.30 तक सीधा प्रसारण हिन्दी चेसबेस इंडिया यूट्यूब चैनल पर किया गया । पढे यह लेख  

सेंट लुईस रैपिड : कार्लसन नें लगाई जीत की हैट्रिक

17/09/2020 -

सेंट लुईस रैपिड शतरंज के दूसरे दिन पहले दिन के स्टार लेवोन अरोनियन और पेंटाला हरिकृष्णा फीके नजर और आए और मेगनस कार्लसन नें लगातार तीन जीत के सहारे पहला स्थान हासिल कर लिया । कार्लसन नें  दूसरे दिन अरोनियन और हरिकृष्णा के अलावा दोमिंगेज पेरेज को भी मात देते हुए 1 अंक की साफ बढ़त हासिल कर ली । भारत के पेंटाला हरिकृष्णा के लिए दिन की शुरुआत ही रूस के इयान नेपोंनियची के हाथो हार से हुई  अरोनियन से उन्होने ड्रॉ खेला और फिर कार्लसन से पार नहीं पा सके । दूसरे दिन वेसली सो और नेपोंनियची नें भी अच्छा खेल दिखाया और वह भी अभी ख़िताबी दौड़ मे शामिल है । अंतिम दिन तीन और राउंड खेले जाएँगे और देखना होगा की कौन बाजी मारता है । हिन्दी चेसबेस इंडिया यूट्यूब चैनल पर लगातार दूसरे दिन रात 11.30 से 12.30 तक सीधा प्रसारण किया गया । पढे यह लेख 

सेंट लुईस रैपिड - हरिकृष्णा ने दिखाया एंडगेम का जादू

16/09/2020 -

क्या शानदार शुरुआत हुई ! भारत के पेंटाला हरीकृष्णा नें सेंट लुईस चेस क्लब द्वारा आयोजित चैम्पियन शो डाउन रैपिड शतरंज के पहले दिन बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए अर्मेनिया के लेवोन अरोनियन के साथ दो जीत और एक ड्रॉ के साथ सयुंक्त बढ़त हासिल कर ली है । हरीकृष्णा नें पहले ही राउंड मे काले मोहरो से अमेरिका के दोमिंगेज पेरेज को मात दी तो दूसरे राउंड मे उन्होने फीडे के अलीरेजा फिरौजा से ड्रॉ खेला जबकि तीसरे राउंड मे उन्होने दिग्गज रूसी खिलाड़ी अलेक्ज़ेंडर ग्रीसचुक को काले मोहरो से पराजित करते हुए  पहले ही दिन 5 अंक अर्जित कर लिए । हरिकृष्णा की दोनों जीत मे  एक बार फिर उनकी एंडगेम की महारत सामने आई और उन्होने लगभग ड्रॉ लग रहे मुक़ाबले मे जीत हासिल की । पढे यह लेख देखे पहले दो राउंड का विडियो विश्लेषण भी । 

चैम्पियन शो डाउन 960 - कार्लसन -नाकामुरा सयुंक्त विजेता

14/09/2020 -

सेंट लुईस चेस क्लब द्वारा आयोजित चैम्पियन शोडाउन शतरंज 960 का समापन कल रात अंतिम तीन राउंड के खेले जाने के साथ हो गया । 9 राउंड के टूर्नामेंट मे 6 अंक बनाकर विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन और हिकारु नाकामुरा सयुंक्त विजेता बने हालांकि कार्लसन शायद एकल विजेता बन सकते थे पर ऐसा नहीं हो सका । कल तक आगे चल रहे लेवोन अरोनियन अंतिम दिन सिर्फ 1 अंक ही बना पाये और 5.5 अंक के साथ तीसरे स्थान पर रहे । 960 शतरंज के वर्तमान  विश्व चैम्पियन वेसली सो के लिए प्रतियोगिता मे अंतिम स्थान पर रहे अलीरेजा फिरौजा के सामने हारना उनके लिए सबसे ज्यादा नुसानदायक साबित हुआ और वह सयुंक्त विजेता बनने से चूक गए जबकि गैरी कास्पारोव नें अंतिम दिन लगातार तीन ड्रॉ खेलकर दिखाया की अभी भी उनमें शीर्ष स्तर पर मुक़ाबला करने की क्षमता खत्म नहीं हुई है । एक दिन के विश्राम के बाद अब रैपिड और ब्लिट्ज़ के मुकाबलों मे भारत के पेंटाला हरिकृष्णा भी खेलते नजर आएंगे । पढे यह लेख 

चैम्पियन शो डाउन 960 - अरोनियन निकले सबसे आगे

13/09/2020 -

सेंट लुईस चेस क्लब द्वारा आयोजित चैम्पियन शो डाउन 960 शतरंज के दूसरे दिन जीत की हेट्रिक लगाते हुए अर्मेनिया के शीर्ष खिलाड़ी लेवोन अरोनियन नें 6 राउंड के बाद टूर्नामेंट मे एकल बढ़त बना ली है हालांकि अंतिम दिन उन्हे कास्पारोव और कार्लसन से मुक़ाबला खेलना बाकी है । दूसरा दिन मेगनस कार्लसन की वर्तमान 960 विश्व चैम्पियन वेसली सो के हाथो हार और गैरी कास्पारोव की माऊस स्लिप की वजह से करूआना से हार की वजह से भी चर्चा मे रहा । अब अंतिम तीन राउंड खेले जाने है और ऐसे मे देखना होगा की कौन सा खिलाड़ी इस 960 शतरंज के खिताब को जीतता है । क्या वो बढ़त बना चुके अरोनियन होंगे या फिर कार्लसन या वेसली सो आज अंतिम दिन खिताब अपने कब्जे मे लेंगे पढे यह लेख और देखे हिन्दी चेसबेस इंडिया का लाइव विश्लेषण विडियो । 

चैम्पियन शो डाउन 960 - कार्लसन -कास्पारोव ने खेला ड्रॉ

12/09/2020 -

भारतीय समयानुसर कल रात 11.30 बजे से अमेरिका के सेंट लुईस चेस क्लब द्वारा आयोजित चैम्पियन शो डाउन 960 शतरंज के मुक़ाबले शुरू हो गए । पहले दिन 3 मुक़ाबले खेले गए और अब अगले दो दिन भी इसी तरह अगले 6 राउंड खेले जाएँगे । पहले दिन सबकी नजर थी उस मुक़ाबले पर जो था विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन और पूर्व विश्व चैम्पियन गैरी कास्पारोव के बीच । दोनों के बीच 16 साल के बाद यह मुक़ाबला खेला गया और अच्छी स्थिति के बाद भी कार्लसन इसमें जीत हासिल नहीं कर पाये और बाजी अनिर्णीत रही । पहले दिन के बाद कार्लसन और दोमेंगेज 2.5 अंक बनाकर सयुंक्त बढ़त ओर चल रहे है । रात 11.30 बजे से रात 2 बजे तक हिन्दी चेसबेस इंडिया पर इन खेलो का सीधा विश्लेषण किया गया । 

चैम्पियन शो डाउन 960 - कास्पारोव कार्लसन पर नजर

11/09/2020 -

आपने आखिरी बार कब पूर्व विश्व चैम्पियन गैरी कास्पारोव और मेगनस कार्लसन को एक साथ खेलते देखा था नहीं याद आ रहा ना ज्यादा परेशान मत होइए अब से थोड़ी ही देर के बाद सेंट लुईस चैस क्लब अमेरिका के द्वारा आयोजित ऑनलाइन चैम्पियन शो डाउन 960 के मुक़ाबले में विश्व के चोटी के 10 खिलाड़ियों में यह दोनों भी खेलते हुए नजर आएंगे । 1लाख 50 हजार यूएस डॉलर की इस प्रतियोगिता में आज से लगातार तीन दिन तक राउंड रॉबिन आधार पर कुल 9 राउंड खेले जाएँगे । हम सभी जानते है की कभी कार्लसन को गैरी कास्पारोव नें तैयारी कराई थी और उनके कोच भी रहे थे और तभी से कार्लसन के एक दिन विश्व चैम्पियन बनने की चर्चा शुरू हो गयी थी तो ऐसे में जब ये दोनों आपस में मुक़ाबला खेलेंगे तो वह वाकई देखना वाला होगा ! पढे यह लेख  

फिर शुरू होगा फीडे कैंडीडेट टूर्नामेंट 2020 !

09/09/2020 -

विश्व शतरंज प्रेमियों के लिए ऑन द बोर्ड टूर्नामेंट से संबन्धित बड़ी खबर आई है दरअसल फीडे कैंडीडेट के पुनः शुरू होने की घोषणा कर दी गयी है । , 26 मार्च बाद कोविड 19 के चलते बनी परिस्थितियों नें  विश्व शतरंज संघ  को फीडे कैंडीडेट टूर्नामेंट रोकने पर मजबूर कर दिया था । रूस सरकार  द्वारा जारी प्रतिबंधों के बाद खिलाड़ियों को 7  राउंड होने के पश्चात आनन फानन मे उनके देश भेज दिया गया था । अब फीडे नें 1 नवंबर से टूर्नामेंट को वापस शुरू करने को तय कर दिया है । प्रतियोगिता ठीक उसी स्थिति से पुनः शुरू होगी जहां रोकी गयी थी मतलब की राउंड आठ से लेकर 14 तक के मुक़ाबले अब खेले जाएँगे तो इसका मतलब ये हुआ की अब जल्द ही हमें विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन का प्रतिद्वंदी मिल जाएगा । पढे यह  लेख 

विदित गुजराती के सबसे बेहतरीन 5 मुक़ाबले

08/09/2020 -

भारतीय शतरंज टीम के कप्तान विदित गुजराती इस समय भारतीय शतरंज प्रेमियों के बीच खासे लोकप्रिय हो रहे है और इसके पीछे कई कारण है , सबसे पहला कारण है उनकी शानदार कप्तानी मे भारत नें पहला ओलंपियाड का स्वर्ण पदक हासिल किया साथ ही साथ इस कोविड 19 के मुश्किल समय मे शतरंज के विकास के लिए उनका सक्रिय होना । खैर इसका अलावा एक मुख्य बिन्दु उनका खुद का निखरता प्रदर्शन है । कप्तानी की ज़िम्मेदारी मिलने के बाद विदित के खेल मे गज़ब का निखार आया है और हम हिन्दी चेसबेस इंडिया यूट्यूब चैनल पर उनके खेल जीवन के 5 सबसे  बेहतरीन जीतों का विश्लेषण करने जा रहे है जिसमें से दो जीत हमने पहले ही सबके सामने रख दी है । पढे यह लेख और देखे विडियो और पीजीएन गेम्स !

आगे आइये और दुर्गेश की मदद में हाथ बढ़ाइए

07/09/2020 -

बेंगलुरू के जाने-माने शतरंज कोच दुर्गेश के का पिछले महीने ब्रेन हैमरेज हो गया और तब से गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती हैं। दुर्गेश का परिवार को उनके अस्पताल में भर्ती होने और ठीक होने के खर्चों के लिए पैसो की सख्त जरूरत है। उनके करीबी दोस्त सुश्रुत रेड्डी ने चेसबेस इंडिया के साथ एक फ़ंडरेजर टूर्नामेंट (50,000 रुपये पुरूष्कार राशि ) प्रायोजित किया है, ताकि सुनिश्चित हो सके कि दुर्गेश ठीक हो जाए और घर वापस आ जाए। इसलिए हम शतरंज समुदाय से आग्रह करते हैं कि वे आगे आएं और दुर्गेश के लिए खेलें और मदद के लिए हाथ बढ़ाएं। दुर्गेश कौन हैं, शतरंज के खेल में उनका क्या योगदान है, और आप उनके जीवन के सबसे कठिन समय में कैसे उनकी मदद कर सकते हैं, यह जानने के लिए यह लेख पढ़ें।

दिव्या - वन्तिका : भविष्य की है बड़ी उम्मीद !

06/09/2020 -

जब भारतीय टीम के चयन ऑनलाइन ओलंपियाड के लिए  किया गया था तो दिव्या देशमुख और वन्तिका अग्रवाल का चयन जूनियर बालिका वर्ग के लिए किया गया ,हालांकि उस समय यह सवाल भी उठे की देश की शीर्ष जूनियर खिलाड़ी आर वैशाली को क्यूँ जूनियर की जगह सीनियर स्थान से खिलाया गया पर दिव्या और वन्तिका नें अपने खेल से कभी भी टीम को मुश्किल मे नहीं आने दिया और इसका ही परिणाम रहा की टीम के स्वर्ण पदक जीतने मे इन दोनों का भी बड़ा योगदान रहा । यह बात भी देखने की है जिस उम्र मे लोग देश के लिए खेलने का ख्वाब देखते है उस उम्र मे यह दोनों ओलंपियाड का स्वर्ण पदक हासिल कर चुकी है और इसका प्रभाव आने वाले मुकाबलों मे नजर आएगा । दिव्या और वन्तिका अगर इसी तरह से मेहनत करती रही तो हम कह सकते है की वो भारत की अगली हम्पी और हारिका बनने की राह पर ही है । पढे यह लेख