chessbase india logo

जूलियस बेर टूर - प्रग्गानंधा नें जीते लगातार 9 मुक़ाबले

by Niklesh Jain - 20/09/2021

ओलंपियाड में उम्मीद से कमतर प्रदर्शन करने के बाद भारत के युवा ग्रांड मास्टर आर प्रग्गानंधा नें शानदार वापसी करते हुए जूलियस बेर चैलेंजर्स चैस टूर के आखिरी पड़ाव हाऊ ईफ़ान शतरंज टूर्नामेंट में शानदार खेल दिखाते हुए लगातार 9 मुकाबलों में जीत हासिल की है । प्रग्गानंधा नें इस दौरान यूएसए के लियांग आवोण्डर को भी पराजित किया जिनसे ओलंपियाड सेमी फाइनल में वह मुक़ाबला हार गए थे । प्रतियोगिता में 17 खिलाड़ी टीम क्रामनिक और टीम पोल्गर में बंटे हुए है और सभी राउंड रॉबिन आधार पर आपस में मुक़ाबला खेलेंगे और हमेशा की तरह विजेता बनने वाले खिलाड़ी को चैम्पियन चैस टूर में स्थान मिलेगा । पढे यह लेख 

जूलियस बेर चैलेंजर्स चैस टूर – प्रग्गानंधा नें लगातार 9 मुक़ाबले जीते 

जूलियस बेर चैलेंजर्स चैस टूर के आखिरी पड़ाव हाऊ ईफ़ान शतरंज चैंपियनशिप मे भारत के ग्रांड मास्टर प्रग्गानंधा नें लगातार 9 मुक़ाबले जीतकर मजबूत एकल बढ़त हासिल कर ली है । दुनिया के शीर्ष जूनियर खिलाड़ियों के बीच हो रहे इस टूर्नामेंट मे 17 खिलाड़ियों के बीच राउंड रॉबिन आधार पर कुल 16 राउंड खेले जाने है ।

ओलंपियाड मे खराब प्रदर्शन के बाद प्रग्गानंधा जैसे के अलग ही लय मे नजर आ रहे है । प्रग्गानांधा नें अब तक उस के दुग्गापति बालाजी ,भारत की आर वैशाली ,चीन की जू जिनेर ,इज़राइल के यहिल सोकोलोव्स्की ,चीन की लेई टिंगजे , यूएसए के लियांग आवोण्डर , रूस के मुरजिन बोलोदर , पोलैंड की किओलबासा ओलिविया और अजर बैजान की गुनय मममज़दा को पराजित किया है ।

फिलहाल जर्मनी के विन्सेंट केमर 7 अंक बनाकर दूसरे तो यूएसए के क्रिस्टोफर यो 6 अंक बनाकर तीसरे स्थान पर चल रहे है ।

अन्य भारतीय खिलाड़ियों  मे 5 अंक बनाकर आदित्य मित्तल छठे

तो लियॉन मेन्दोंसा सातवे स्थान पर चल रहे है । इस टूर मे जीतने वाले खिलाड़ी को सीधे चैम्पियन चैस टूर के फाइनल मे प्रवेश मिलेगा जहां पर वह विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन समेत दुनिया के शीर्ष खिलाड़ियों के साथ मुक़ाबले खेल पाएगा ।